अपराधियों का गढ़ बना मध्यप्रदेश: सुरजेवाला

0
37

लोकोत्तर संवाददाता, भोपाल। देश का दिल तथा कला, संस्कृति एवं संस्कारों की राजधानी कहा जाने वाला मध्यप्रदेश अपराधियों का गढ़ बन गया है. यह बात आज अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए कही। सुरजेवाला ने कहा कि सत्ता की सरपरस्ती में प्रदेश में निरंकुश अपराधी शासन कर रहे हैं। उन्होंने मुख्यमत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा कि पौराणिक काल में कंश और शकुनि दो मामा हुए थे तथा एक मामा मध्यप्रदेश में शासन कर रहे हैं। सुरजेवाला ने कहा कि मामा कहे जाने वाले शिवराज ने सामाजिक सरोकारों को भ्रष्टाचार की भेट चढ़ा दिया है।
दुष्कर्म में प्रदेश अव्वल
रणदीप सुरजेवाला ने महिला अपराधों पर 2004 से 2016 के आंकड़ों का जिक्र करते हुए कहा कि इतने समय में 46 हजार 500 से अधिक बलात्कार की घटनाएं हुई. जिस प्रदेश में दुष्कर्म की इतनी घटनाएं घटित हुईं तो मामा शिवराज को नींद कैसे आती होगी। इसके अलावा सुरजेवाला ने कहा कि प्रदेश में प्रतिवर्ष 4904 अपहरण की घटनाएं हो रहीं है जोकि पूरे देश में सबसे अधिक है. सुरजेवाला ने नेशनल फेमिली हेल्थ के सर्वे का हवाला देते हुए कहा कि प्रदेश में 42.8 फीसदी यानी 47 लाख से अधिक बच्चे कुपोषित हैं फिर भी सीएम को मामा कहा जाता। सुरजेवाला ने आगे कहा कि प्रदेश में शिशु मृत्यु दर सबसे अधिक हैं यहां 90 हजार बच्चे साल में अपना पहला जन्म दिन नहीं मना पाते हैं। सुरजेवाला ने प्रदेश की सरकार पर जुबानी हमला करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री किसानों को भगवान कहते हैं लेकिन उनके सीने पर एके 47 रायफल चलवाई गई। किसानों की हत्या पर उन्हें पैरवी की अनुमति नहीं दी गई। साथ हीं सुरजेवाला ने कहा कि प्रदेश में अब तक भाजपा के शासनकाल के दौरान 15हजार 283 किसान आत्महत्या कर चुके हैं लेकिन सरकार फिर भी अपने को किसानों का हिमायती बता रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here